आर.सी. स्प्रोल - लिग्निएर मिनिस्ट्रीज़

लिग्निएर का ब्लॉग

हम डॉ. आर. सी. स्प्रोल का शिक्षण संघ हैं। हम इसलिए अस्तित्व में हैं ताकि हम जितने अधिक लोगों तक सम्भव हो परमेश्वर की पवित्रता को उसकी सम्पूर्णता में घोषित करें, सिखाएं और रक्षा करें। हमारा कार्य, उत्साह, और उद्देश्य है कि हम लोगों को परमेश्वर के ज्ञान और उसकी पवित्रता में बढ़ने में सहायता करें।

 
15 मई 2024

मेरे जीवन के लिए परमेश्वर की इच्छा क्या है?

परमेश्वर की अगुवाई के विषय में बाइबल क्या कहती है? यह कहती है कि यदि हम परमेश्वर को स्मरण करके अपने सब कार्य करें तो वह हमारे लिए सीधा मार्ग निकालेगा (नीतिवचन 3:5-6)।
13 मई 2024

प्रचार में उदाहरणों के उपयोग की आवश्यकता

हमारा भरोसा तकनीकों पर नहीं है। फिर भी, मार्टिन लूथर ने संचार (communication) के कुछ सिद्धान्तों की शिक्षा को जिन्हें वह महत्वपूर्ण मानते थे तिरस्कृत नहीं किया।
10 मई 2024

क्या यीशु पाप करने में समर्थ था?

भूतकाल और वर्तमान काल के सर्वोत्तम ईश्वरविज्ञानी इस प्रश्न पर एक मत नहीं हैं कि क्या यीशु पाप करने में समर्थ था।
8 मई 2024

एक्लेसिया: बुलाए हुए लोग

पहाड़ पर, यीशु ने "जिन्हें चाहा, उन्हें अपने पास बुलाया" (मरकुस 3:13)।
6 मई 2024

विधिवत् ईश्वरविज्ञान के स्रोत

विधिवत् ईश्वरविज्ञानी के लिए प्रमुख स्रोत बाइबल है। वास्तव मेें, ईश्वरविज्ञान के अध्ययन की तीनों विद्याशाखाओं (disciplines) के लिए बाइबल ही प्राथमिक स्रोत है: बाइबलीय (Biblical) ईश्वरविज्ञान, ऐतिहासिक (Historical) ईश्वरविज्ञान, और विधिवत् (Systematic) ईश्वरविज्ञान। 
21 मार्च 2023

यदि परमेश्वर सम्प्रभु है, तो हम प्रार्थना क्यों करें?

परमेश्वर की दृष्टि से कुछ भी छिपता नहीं है; कुछ भी उसकी सामर्थ्य की सीमाओं के परे नहीं है। परमेश्वर सब वस्तुओं पर अधिकार रखता है।
16 मार्च 2023

परमेश्वर से पहले क्या आया?

लोग तर्क कर सकते हैं कि यदि प्रत्येक प्रभाव (effect) का एक कारण (cause) होता है, तो परमेश्वर का भी एक कारण होना चाहिए। इसलिए वे पूछ सकते हैं, परमेश्वर से पहले क्या था? परन्तु शाश्वत परमेश्वर तो कोई प्रभाव नहीं है।
14 मार्च 2023

परमेश्वर का नाम क्या है?

मूसा ने एक कुछ क्षणों के लिए पवित्र परमेश्वर से भेंट की, और वह जितना निकट गया, उतनी ही वह भयभीत हुआ। उसने परमेश्वर की वाणी को उसे एक विशेष कार्य के लिए भेजते हुए सुना, और उसका भय सन्देह में बदल गया: “मैं कौन हूँ जो इस कार्य को करने जाऊँ?” और प्रतिउत्तर में परमेश्वर ने कहा, “मैं तेरे साथ रहूँगा” (निर्गमन 3:12)।
9 मार्च 2023

बचाने वाले विश्वास क्या है

विश्वास मसीहियत के लिए केन्द्रीय है। नया नियम बारम्बार लोगों को प्रभु यीशु ख्रीष्ट पर विश्वास करने के लिए बुलाता है। एक निश्चित विषयवस्तु है जिस पर विश्वास किया जाना चाहिए, जो हमारे धार्मिक क्रियाओं का अभिन्न भाग है।